Breaking News
गोरखपुर: गुरुनानक के जयघोष से गुंजायमान रहा वातावरण,हर्षोल्लास से मना 550वां प्रकाश पर्व..  |  Ayodhya Case Verdict 2019: सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले से श्री राम का वनवास खत्म, मंदिर निर्माण का रास्ता साफ, कोर्ट में महत्वपूर्ण साबित हुईं ये दलीलें,पढ़िए पूर्ण विश्लेषण !  |  अयोध्या फैसले को लेकर भटहट क्षेत्र में लिया गया सुरक्षा का जायजा और लोगों से शांति बनाए रखने की गई अपील  |  श्री साधुमार्गी जैन श्रावक संघ द्वारा विशाल रक्तदान शिविर का आयोजन A.I.I.M.S के तत्वाधान में किया गया।  |  गोरखपुर:चैनल में करंट उतर से एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत  |  चुनाव आयोग ने महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव की तारीखों का किया ऐलान, ये 4 मुद्दे हो सकते हैं भाजपा के लिए गेमचेंजर !   |  दिल्ली यूनिवर्सिटी छात्रसंघ चुनाव 2019 : अध्यक्ष समेत तीन सीटों पर ABVP की जबरदस्त जीत, NSUI को मिला सचिव पद !  |  रांची पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी, झारखंड को दी 7 नई सौगातें !   |  देहदान अंगदान समाज की एक बड़ी जरूरत - हर्ष मल्होत्रा  |  वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी का 95 साल की उम्र में निधन, राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने जताया शोक, सुब्रमण्यम स्वामी ने लिखा- `अलविदा दोस्त`   |  
खेल
By   V.K Sharma 18/05/2018 :10:10
एशियाई खेलों के कोचिंग कैंप से बाहर हुई हरियाणा की फोगाट बहनें
Total views  637
भिवानी कॉमनवेल्थ गेम्स विजेता रेसलर गीता फोगाट और उनकी तीनों बहनों को नेशनल कैंप से बाहर कर दिया गया है। गीता के साथ उनकी छोटी बहनों बबीता, संगीता और रितु को भी भारतीय रेसिलंग फेडरेशन ने नोटिस जारी कर नेशनल कैंप से अनुपस्थिति पर जवाब मांगा है।

बता दें कि चारों बहनें एशियन गेम्स की तैयारियों के लिए आयोजित नेशनल कैंप से नदारद हैं। कोच कुलदीप मलिक की रिपोर्ट पर फेडरेशन ने चारों फोगाट बहनों को नोटिस भेजा है। फेडरेशन के अध्यक्ष बृज भूषण सिंह ने बताया कि फोगाट बहनों समेत जिन खिलाडिय़ों को कारण बताओ नोटिस जारी किए गए हैं, वे फिलहाल कैंप से बाहर हैं। वे आएं और अनुपस्थिति का कारण बताएं। इसके बाद ही कोई निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने कहा बबीता और अन्य खिलाड़ी ऐसा नहीं कर सकतीं हैं। यह एक गंभीर मामला है। फेडरेशन ने अनुशासनहीनता के कारण ही उनको बाहर किया है। एशियन गेम्स की तैयारी के लिए 10 से 25 मई तक महिला खिलाडिय़ों के लिए लखनऊ में कैंप आयोजित किया गया है। इस कैंप में चारों फोगाट बहनों को ट्रेनिंग के लिए शामिल होना था। लेकिन, कोई भी इसमें शामिल नहीं हुई। इसके साथ ही कई अन्य खिलाड़ी भी कैंप में शामिल नहीं हुई है। फेडरेशन ने इसे गंभीर अनुशासनहीनता का मामला मानते हुए नोटिस भेजा
है। हालांकि, नोटिस के बाद बबीता फोगाट ने खुद के चोटिल होने का दावा किया है। फेडरेशन ने कहा है कि जो खिलाड़ी खुद नहीं आ सकते हैं उनको कोच को कैंप से अनुपस्थिति का कारण स्पष्ट करना होगा। नेशनल कैंप में चुने गए पहलवानों को 3 दिन के भीतर रिपोर्ट करनी होती है। जो खिलाड़ी रिपोर्ट नहीं कर सकते,
उन्हें इसकी सूचना कोच को देनी होती है। फोगाट बहनों व बाहर किए गए अन्य पहलवानों ने कोच को इसकी सूचना नहीं दी। इसी पर कार्रवाई करते हुए फेडरेशन ने इन पर कार्रवाई की है। फेडरेशन की कार्रवाई का मतलब यह है कि खिलाडिय़ों को एशियन गेम्स के ट्रायल में भाग लेने से प्रतिबंधित किया जा सकता है। एशियन गेम्स अगस्त सितंबर में इंडोनेशिया में आयोजित होगा।

इस मामले में जब गीता फोगाट से बात की तो गीता ने बताया कि वह अपनी चोट के कारण रिपोर्ट नहीं कर पाई है इसलिए अथॉरिटी ने उनको नोटिस भेजा था आज मेल के माध्यम से जवाब दे दिया है।वहीं बबीता फोगाट ने बताया कि उसके दोनों घुटनों में चोट है। इसलिए कैंप में शामिल नहीं हो पाई। अपनी बहन रितु व
संगीता के लिए उन्होंने कहा कि रूस में आयोजित कैंप में शामिल होने के लिए वे अपने वीजा का इंतजार कर रही हैं। यह फेडरेशन की जानकारी में है। हालांकि, फेडरेशन से इसको खारिज किया है। गीता बेंगलुरु में है। वह निजी कैंप में ट्रेनिंग ले रही है। उनको पता नहीं है कि वह कैंप को क्यों शामिल नहीं हुई हैं।



V.K Sharma
Editor in Chief
Live Tv
»»
Video
»»
Top News
»»
विशेष
»»


Copyright @ News Ground Tv