Breaking News
पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का दिल का दौरा पड़ने से 67 वर्ष की उम्र में निधन, दिल्ली के एम्स अस्पताल में ली अंतिम सांस !   |  जम्मू कश्मीर से हटा अनुच्छेद 370 ,लद्दाख होगा केंद्र शासित प्रदेश, जानें क्या है अनुच्छेद 35A तथा अनुच्छेद 370 !  |  दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का 81 साल की उम्र में निधन, अस्पताल में पड़ा दिल का दौरा, कल होगा अंतिम संस्कार !   |  भारत रक्षा मंच के स्थापना दिवस पर विचार गोष्ठी का आयोजन   |  बाबरपुर विधायक मोहल्ला क्लीनिक के नाम घोटालों को दे रहे है अंजाम---वी के शर्मा  |  गोरखपुर: गाड़ी न मिलने पर निकाह के बाद हुआ जमकर हंगामा   |  जे.पी.नड्डा बने भाजपा के नए राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष , शाह बने रहेंगे पार्टी चीफ !   |  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पीएमओ स्टाफ को संबोधित करते हुए कहा "थैंक्यू" बोले - समर्पित टीम के बिना नहीं मिलता परिणाम, खुद के अंदर लीडरशिप होना बहुत जरूरी - पीएम मोदी   |  पीएम मोदी को NDA संसदीय दल ने चुना अपना नेता , राष्ट्रपति से मिलकर पेश किया सरकार बनाने का दावा , कहा सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास हमारा मंत्र - मोदी  |  CBSE Board 2019 : 10वीं और 12वीं कंपार्टमेंट की डेटशीट जारी, जाने पूरी जानकारी ।  |  
न्यूज़ ग्राउंड विशेष
By   V.K Sharma 25/05/2019 :23:27
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पीएमओ स्टाफ को संबोधित करते हुए कहा "थैंक्यू" बोले - समर्पित टीम के बिना नहीं मिलता परिणाम, खुद के अंदर लीडरशिप होना बहुत जरूरी - पीएम मोदी
Total views  456



नई दिल्ली (न्यूज़ ग्राउंड) आकाश मिश्रा : केंद्र में पुरानी सरकार भंग हो चुकी है और नई सरकार बनने की प्रक्रिया शुरू हो गयी है. पीएम नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को राष्ट्रपति से मिलकर 16वीं लोकसभा को भंग करने की सिफारिश की। इससे पहले पीएम ने प्रधानमंत्री कार्यालय के स्टाफ से बात की। पीएम ने पीएमओ में कार्यरत कर्मचारियों की जमकर तारीफ की। पीएम ने कहा कि कोई भी परिणाम तब तक नहीं मिलता, जब तक कोई समर्पित टीम नहीं मिलती है। सपने कितने ही सुहाने क्यों न हों, तब तक परे नहीं होते जब तक साथियों की सोच काम को लेकर एक जैसी नहीं होती है। पीएम ने बीज गणित के फॉर्म्युले का जिक्र कर पीएमओ कर्मियों की ऊर्जा के बारे में बताया। पीएम ने कहा, 'पांच साल की अखंड एकनिष्ठ साधना, जिसका लक्ष्य देश के समान्य व्यक्ति के जीवन में आशा और बदलाव संचारित करना।' पीएम ने कहा, 'इन सब कामों का क्रेडिट तो पीएम को मिलता है। टीवी-अखबार में पीएम दिखता है, तारीफ भी पीएम को मिलती है, लेकिन जब तक कोई समर्पित टीम नहीं होती है, तब तक सपने कितने ही सुहाने और संकल्प कितने ही दृढ़ क्यों न हों, इरादे कितने ही नेक क्यों न हों... परिणाम मिलना मुश्किल होता है। परिणाम तब मिलता है, जब पीएम की सोच और साथियों की सोच एक साथ मिलती हो। पीएम जो भी विचार रखें, वह तो 10-15 मिनट में ही रखे जाते हैं, लेकिन उस एक लाइन को पकड़कर नीति का रूप देना एक लंबी प्रक्रिया होती है। यह सब टीम के बिना संभव नहीं होता है।' मोदी ने कहा, 'पांच साल तक, जिस इरादे से 2014 में चले थे 2019 तक हमने अपने मार्ग में जरा भी भटकाव नहीं आने दिया। हम समर्पण बढ़ाते गए। लोगों की अपेक्षाओं के कारण काम का दबाव बढ़ता गया। लोगों के विश्वास के कारण जब दबाव बढ़ता है तो वह ऊर्जा में बदल जाता है। हम लोगों ने अनुभव किया कि जो देश की अपेक्षाओं का दबाव में हमारे लिए बोझ नहीं बना, बल्कि हमारी ऊर्जा बन गया।' पीएम ने वहां मौजूद पीएमओ कर्मियों से कहा, 'आपने भी महसूस किया होगा कि पूर्व के कार्यकाल की अपेक्षा आपको भी परिवर्तन महसूस हुआ होगा। वह ऊर्जा लोगों की अपेक्षा से ही आई है।' 

पीएम ने बीज गणित से  :- पीएम ने कहा, 'बीज गणित में पढ़ाते थे (a+b)2, जब इसे खोलते थे तो कहते थे a2+2ab+b2 , यह 2ab कहां से आया है? ये 2ab जो ब्रेकिट में से एक्स्ट्रा एनर्जी पैदा हुई, ये विश्वास की एनर्जी है। ऐसी ही एनर्जी ने हमें अधिक काम करने की ताकत दी। फैसले लेने की ऊर्जा बढ़ा दी। विश्वास ने एक नया रूप धारण कर लिया।' पीएम ने कहा कि अगर आप इसे अपने जीवन का हिस्सा बना लें तो यह आपके जीवन की बहुत बड़ी ताकत बन जाएगा। 

अपेक्षा से ज्यादा दिया परिणाम :- पीएम ने पीएमओ कर्मियों से कहा, 'मेरा अब तक का अनुभव है कि आप लोगों ने मेरी अपेक्षा से ज्यादा परिणाम दिया है। समय की कल्पना से पहले दिया है। सुचारू ढंग से किया और सुचिता के साथ दिया है। यह पूरी टीम अभिनंदन के अधिकारी हैं।' 

पीएमओ इफेक्टिव नहीं एफिशंट हो :- पीएम ने कहा कि हम नहीं चाहते कि प्रधानमंत्री कार्यालय इफेक्टिव हो, हम चाहते हैं कि पीएमओ एफिशंट हो। एफिशंसी के परिणाम की मात्रा बहुत अधिक होती है। पीएम ने कहा, 'आपमें से कई लोग हैं, जिन्होंने बहुत प्रधानमंत्री और मंत्री देखे हैं, लेकिन मैं पहला प्रधानमंत्री हूं, जिसने आपको देखा है। आपने मुझे कभी अकेलापन महसूस नहीं होने दिया, काम का बोझ मुझ पर नहीं आने दिया। आपके विचारों ने मुझे ताकत दी है।' 



V.K Sharma
Editor in Chief
Live Tv
»»
Video
»»
Top News
»»
विशेष
»»


Copyright @ News Ground Tv