Breaking News
दलितों पर राजनीति करती आम आदमी पार्टी और कांग्रेस की सरकार - आदेश गुप्ता  |  भाजपा दिल्ली प्रदेश के नवनियुक्त पदाधिकारियों की घोषणा !  |  हाथरस पीड़िता के परिवार से मिलने जा रहे राहुल गांधी के काफिले को रोक पुलिस ने की लाठीचार्ज !  |  Unlock 5 Guideline: गृह मंत्रालय ने जारी करी अनलॉक 5 कि गाइडलाइन, जानें क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद !  |  हाथरस गैंगरेप पीड़िता की मौत के बाद परिजनों में आक्रोश, जीभ काटने आंख फोड़ने जैसी कोई बात नहीं - आईजी   |  संगठन द्वारा सौंपी गई नई जिम्मेदारियों का मैं सच्ची निष्ठा से निर्वाहन करूंगा - तरुण चुग !  |  भाजपा के नवनियुक्त केंद्रीय पदाधिकारियों की घोषणा, यह रही सूची !  |  SSC ने घोषित की CHSL, CGL, JE, स्टेनो समेत सभी लंबित परीक्षाओं तारीख, 1 अक्टूबर से 31 अगस्त 2021 तक होंगे एग्जाम !  |  राफेल उड़ाने वाली पहली महिला पायलट होंगी वाराणसी की शिवांगी सिंह !   |  रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगड़ी का निधन 11 सिंतबर को हुए थे कोरोना पॉजिटिव !  |  
राष्ट्रीय
By   V.K Sharma 09/08/2018 :09:36
युवा किसान ही मोदी जी के सपनो को साकार करेगा-वीरेंद्र सिंह मस्त
 
नई दिल्ली(न्यूज़ ग्राउंड) भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के तत्वावधान में राष्ट्रीय युवा किसान समिति के पदाधिकारियों की बैठक उत्तर प्रदेश भवन नई दिल्ली पर सम्पन्न हुई ,राष्ट्रीय अध्यक्ष किसान मोर्चा एवम सांसद श्री वीरेंद्र सिंह मस्त जी राष्ट्रीय युवा किसान समिति, भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के राष्ट्रीय पदाधिकारियों और कार्यकारिणी सदस्यों की बैठक को संबोधित करते हुए कि कहा कि भारत जैसे कृषि प्रधान देश के लिए यह बेहद जरूरी है कि किसानों की हालत सुधरें। जब हमारे अन्नदाता खुशहाल होंगे, तो देश विकास के रास्ते पर चलेगा।

इसी सोच के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने हाल ही में न्यूनतम समर्थन मूल्य में वृद्धि की घोषणा की। इससे देश के करोड़ों किसानों को लाभ होगा। मोदी सरकार ने 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य रखा है, और इस लक्ष्य को पाने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश की साठ फीसदी आबादी आज भी ग्रामीण क्षेत्रों में रहती है और कृषि पर निर्भर है, जाहिर है कि किसानों की आय बढ़ाए बिना, उनका विकास किए बिना देश का विकास संभव नहीं है। यही वजह है कि मोदी सरकार का पूरा ध्यान किसानों के आर्थिक विकास पर केंद्रित हैं। पिछले तीन वर्षों से किसानों की लागत कम करने और आय बढ़ाने की जो कोशिशें की जा रही हैं, उनका असर अब दिखने लगा है। उन्होंने बताया कि कृषि मंत्रालय के मुताबिक किसानों की आय को केंद्र में रख कर योजनाएं बनाने से आज किसान की आर्थिक स्थिति सुधर रही है। केंद्र सरकार से मिले प्रोत्साहन का ही नतीजा है कि इस वर्ष फसल की बंपर पैदावार हुई है। वहीं, जैविक खेती को बढ़ावा देने से यूरिया की खपत में कमी आई है और इससे भी फसल की लागत कम हुई है। राष्ट्रीय युवा किसान समिति के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं से आह्वान करते हुए वीरेंद्र सिंह मस्त ने कहा कि आप सब युवा हैं। आपमें असीम संभावनाएं हैं। आप किसान की खेती और फसल पर ध्यान दें। गांव-गांव जाकर उन्हें सरकारी योजनाओं से लाभान्वित होने का गुर सिखाएं। किसान की सबसे बडी पूंजी उसकी मेहनत होती है। सच्ची लगन और मेहनत से हर लक्ष्य हासिल किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि हम सभी को अपने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी की तरह स्पष्ट सोच, दृढ इच्छाशक्ति के साथ सबका साथ और सबका विकास के मूल मंत्र को साकार करना होगा
भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष सुुुधीर त्यागी ने कहा कि एक वक्त था जब यूरिया की कालाबाजारी से किसान परेशान रहते थे। लेकिन मोदी सरकार की नीतियों से इसपर रोक लग गई है। दूसरी ओर सरकार ने देश को यूरिया उत्पादन के मामले में आत्मनिर्भर बनाने का निर्णय लिया है। इस प्रयास में पुराने कारखानों को शुरू करने के साथ नए कारखानों की भी शुरुआत हुई है। कई राज्यों में बन रहे यूरिया कारखानों के निर्माण में भी कार्य तेज गति से चल रहा है। भारत सरकार गोरखपुर, सिंदरी, बरौनी, तालचर और रामागुण्डम स्थित पांच उर्वरक संयत्रों का पुनरूद्धार कर रही है। गोरखपुर में निर्माणाधीन फैक्ट्री में यूरिया का उत्पादन वर्ष 2022 से शुरू हो जाएगा।किसानों की सहूलियत का ख्याल रखते हुए सरकार यूरिया के छोटे बैग मुहैया कराने पर विचार कर रही है। वर्तमान में किसानों को यूरिया 50 किलो के बैग में मिलता है। सरकार का प्रयास बैग के आकार को छोटा कर 45 किलो करने का है। सरकार मानना है कि इससे यूरिया की बचत होगी।

राष्ट्रीय संघटक ह्रदय नाथ जी ने युवी का मार्गदर्शन करते हुए कहा कि हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने ने कहा भारतीय कृषि का गौरव लौटाएंगे और 2022 तक लक्ष्य प्राप्त करने के लिए सारे रास्ते अपनाएंगे।इस मुुहिम में युवा किसान श्रेष्ठ सिद्ध हो
सकता है, इस अवसर पर राष्ट्रीय युवा किसान समिति के मीडिया प्रभारी अनन्त अमित ने बताया कि युवाओं को कृषि के लिए प्रेरित करके मोदी जी की नीतियों को गांव गांव तक पहूँचना ही युवा किसान समिति का लक्ष्य है 



V.K Sharma
Editor in Chief
Live Tv
»»
Video
»»
Top News
»»
विशेष
»»


Copyright @ News Ground Tv